Aaj Ka Suvichar , Kya Karu , Success Story, Quotes, Hindi Quotes,

महाशिवरात्रि 2019 का शुभ योग और शुभ समय, करे ऐसे शिवलिंग की पूजा

Mahashivratri 2019 महाशिवरात्रि अपने आप में बहुत ख़ास हैं क्योंकि इस बार महाशिवरात्रि सोमवार को मनाई जायेगी. कहते है की भोलेनाथ को खुश करना है तो उनकी पूजा करनी चाहिए और पूजा करने के अनेक तरह के प्रावधान है. यदि आप भी चाहते हैं की भोलेनाथ आपसे खुश हो जाए तो इस शिवरात्री उनकी इस तरह पूजा करें.

महाशिवरात्रि पर दुर्लभ संयोग बन रहा है

महाशिवरात्रि
Maha Shivratri 2019

पं. मनोज कुमार द्विवेदी के अनुसार इस बार शिवरात्री सोमवार को आ रही है, और सोमवार को पूजा करने से शिव खुश होते हैं. वहीँ एक दुलर्भ योग भी बन रहा है क्योंकि सोम चन्दमा को भी कहा जाता है और इस बार फाल्गुन मॉस की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को भगवान शिव की पूजा होगी. यह अपने आप में एक महासयोंग हैं. यह योग सोमवार दोपहर 1 बजकर 32 मिनट से शुरू हो रहा है.

Shivratri 2019 पूजा का समय

इस बार महाशिवरात्रि का व्रत 4 मार्च सोमवार को किया जाएगा, इस व्रत को करने का सही समय 4 बजकर 11 मिनट में चतुर्दशी लग रही है. उसी समय में महाशिवरात्रि का व्रत होगा. माना जाता है की Shivratri Vart करें से शिव भगवान प्रसन्न होते हैं.

कैसे करें महाशिवरात्रि का व्रत  

कहते हैं की भगवान को खुश करना हो तो बस सच्चे मन से भगवाना को याद कर लेना चाहिए. भगवान अपने आप खुश हो जाते हैं. वहीं शिव जी का व्रत करके भी उन्हें खुश किया जा सकता है. देवो के देव कहलाये जाने वाले शिव का सबसे बड़ा व्रत महाशिवरात्रि को किया जाता है. यह व्रत इस बार 4 मार्च को 4 बजकर 11 मिनट से प्रारम्भ होगा.

क्या है महाशिवरात्रि के व्रत की महिमा

Maha shivratri Puja Time
Maha shivratri Puja Time

माना जाता है की महाशिवरात्रि के दिन सूर्यास्त के बाद भगवान शिव पार्वती भूलोक का भ्रमण करते हैं. इस व्रत को करने वाले पर भगवान शिव की कृपा हमेशा बनी रहती है. कहते है की शिव को खुश करना हो तो महाशिवरात्रि का व्रत ही कर लेना चाहिए भगवान शिव खुश हो जाते हैं.

शिव व्रत में रखें इन बातों का ध्यान

यदि आप महाशिवरात्रि का व्रत कर रहे हैं तो इस बात का ध्यान जरुर रखें. शिव जी का व्रत में दुसरे दिन सूर्योदय के बाद भोजन करना चाहिए. याद रहे शिवलिंग पर चढ़े किसी भी  तरह के फल इत्यादि का सेवन ना करें. अपने सेवन के लिए अलग तरह का फल अलग से खरीदें या लायें. भोजन करने से पहले किसी सन्यासी या गरीब को भोजन करवाएं और अपने इष्ट मित्रों को भोजन का भाग दें. उसके बाद खुद भोजन करें.

यह भी पढ़ें  Maha Shivratri 2019

महाशिवरात्रि 2019 अपने आप में ख़ास है

जी हाँ इस बार शिवरात्री बहुत ख़ास है क्योंकि इस बार सोमवार को शिवरात्री में पूजा होगी. यह संयोग बहुत मुश्किल से बनता है और विद्वानों की माने तो इस बार शिवरात्री का व्रत करने वालों पर शिव की विशेष कृपा बरसेगी. माना जा रहा है की अनेक तरह के रोग भी शिव की पूजा और व्रत करने से खत्म हो जायेंगे.

शिव पूजा से विरोधियों का भय खत्म हो जाता है

कहा जाता है की शिव पूजा करने से विरोधी जो दुश्मन पक्ष होता है उसका भय खत्म हो जाता है. कहा यह भी जाता है की इस बार शिवरात्री की पूजा मात्र से सारे भय खत्म हो जायेगे शिव भगवान की कृपा हर किसी पर बरसेगी.

शिवरात्री व्रत प्रारम्भ का समय : 4 मार्च 4 बजकर 11 मिनट पर शिवरात्री व्रत प्रारम्भ है.
शिवरात्री पूजा समय : 4 मार्च दोपहर 1 बजकर 32 मिनट से प्रारम्भ है.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *